किस तरह होगा पृथ्वी का अंत | How earth will be destroyed

हेलो फ्रैंड जैसा की आप जानते है की हमारी धरती का अंत निश्चित है लेकिन यह कब और कैसे होगा ये सवाल शायद एक रहस्य ही रहेगा जब तक की हमारी धरती का अंत नजदीक नहीं आता. लेकिन पृथ्वी की दसा और वैज्ञानिको के अनुसार धरती का अंत या तो asteroid के पृथ्वी से टकराने या धरती के Black hole में समां जाने से होगी! लेकिन शायद तब तक Scientist इतनी तरक्की कर ले की वे इन दोनों घटनाओ से हमारी धरती का अंत होने से रोक ले, पर जैसा की मैंने कहा धरती का अंत निश्चित है यह वो घटना है जिसे रोक पाना Impossible  है तो आज हम आप को बताएँगे की हमारी धरती का अंत कैसे होगा!  So Lets Start…

धरती का अंत असल में सूरज के अंत पे निर्भर है जबतक सूरज रहेगा तब तक तो शयद ही हमारी धरती का अंत हो इसी लिए सबसे पहले यह जाना जरूरी है तारो का अंत कैसे होगा अब आप सोचेंगे की धरती और सूरज के बीच ये तारा कहा से आया तो फ्रैंड्स असल में हमारा सूरज भी एक तारा है इस लिए तारो का अंत कैसे होगा यह भी जानना ज़रूरी है तारो में Energy एक Process से होती है जिसे हम science की भाषा में nuclear fusion के नाम से जानते है

तारो में Hydrogen के Atoms होते है, ये Hydrogen Atoms आपस में जुड़ कर Helium केAtoms का निर्माण करते है, और इसी nuclear fusion से सूरज और बाकि सभी तारो को उनकी ऊष्मा शक्ति प्राप्त होती है और ये Helium पदार्थ जोकि Hydrogen के मिलन से बनती है वो भी आपस में मिलना शुरू कर देते है और इससे उस तारे को और भी energy मिलने लगती है और जैसे Hydrogen,Hydrogen मिल कर Helium बनते है बिलकुल वैसे Helium,Helium मिल कर Carbon का निर्माण करते है और यह किर्या लगातार चलती रहती है और नए नए पदार्थ बनते रहते है Oxygen, Niyon और Last में Iron लेकिन जब Iron का निर्मण होता है तो हालत थोड़े बिगडने लगते है असल में Iron और Iron के मिलने से Energy नहीं बनती और ये Iron तारो के Core में इकठा होने लगते है और तारा तब तक ठीक रहता है जब तक की सारा Fuel ख़तम न हो जाये जब सारा Fuel ख़तम हो जाता है तो आखिर में Gravity अपना काम करती है और वो Star धीरे धीरे अपने ही अंदर ढहने लगता है और उसका Temperature बढ़ता है और आखिर में वो फैल के फट जाता है इसे हम Supernova कहते है क्या आप जानते है हमारा सूरज 460 crore साल यानि 4.5 Billion years पुराना है अगले 500 Years तक हमारा सूरज ऐसा ही रहने वाला है लेकिन इसका Temperature लगातार बढ़ता ही जा रहा है और इसका Temperature आखिर में 200 billion degree तक पहुंच जायेगा आप के लिए यह जानना ज़रूरी है की कोई भी तारा जैसे Supernova तब ख़तम होता है जब उसका Mass बहुत ज्यादा हो- सूरज से करीब 7 गुना ज्यादा, लेकिन हमारा सूरज इतना बड़ा नहीं  इस लिए सूरज Supernova का रास्ता न लेकर एक दूसरा रास्ता लेता है.

जब सूरज इस Stage पर पहुंच जायेग तो वह Expand होने लगेगा और ये आम तारे से आग का गोला में Convert हो जायेगा और यही सूरज जो आज हमें जीवन देता है हमारी Earth को अपने तेज़ ताप से खतम कर देगा और आने वाले 500 Crore साल तक यह फैलता ही रहेगा और इसका साइज अभी के मुकाबले 200 गुना बढ़ जाएगी इतना बड़ा की वो सारे प्लेनेट को एक एक कर के निगल जायेगा जैसे Mercury और फिर Venus यानि शुक्र गृह को और आखिर है हमारी पृथ्वी,

यह एक ऐसी घटना है जिसे हम चाह कर नहीं रोक सकते ये एक निश्चित घटना है और चाहे पृथ्वी Black hole से तबाह हो या न हो लेकि यह सूरज वाली घटना तो होकर ही रहेगी लेकिन यह तो हमारी जीवन चक्र में तो नहीं होने वाला क्योकि ये करोड़ो साल बाद होगी तो अभी आप मज़े कीजये और इसी तरह अपनी ज़िन्दगी मज़े से जीये…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.